cropped-cropped-12182506_1051154508269721_3523168679763284340_o.jpg

जन्म : १ मार्च , १९९३, ग्राम-कबूतरा, आजमगढ़, उत्तरप्रदेश कवि, कथाकार, एवं संपादक हैं। आपकी माता श्रीमति मीरा सिंह एवं पिता स्वर्गीय श्री अमरजीत सिंह एक साधारण परिवार से संबंध रखते हैं। सन् १९९९ में पिता के देहांत के बाद आपकी शिक्षा आपके चाचा श्री अरूण सिंह के कर‍-कमलों से निरंतर चलती रही|

सुप्रसिद्ध हिन्दी कवयित्री तारा सिंह द्वारा प्रकाशित वेब हिन्दी पत्रिका स्वर्गविभा एवं में आपकी ४० से भी अधिक रचनाएँ प्रकाशित हैं। आप ‘लिटरेचर इन इंडिया’ के प्रधान संपादक एवं संरक्षक हैं। आपकी शिक्षा ‘चिल्ड्रेन सीनियर सेकेण्डरी स्कूल’, आजमगढ़, उत्तरप्रदेश से हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट तक हुई। तत्पश्चात आपने उत्तर प्रदेश प्राविधिक विश्वविद्यालय से कंम्यूटर साइंस में बी.टेक. की डिग्री हासिल की।

साहित्य यात्रा-

प्रथम प्रकाशन ‘आवाज़’ पत्रिका में

• स्थानीय एवँ राष्ट्रीय समाचार पत्रों में रचनाएँ प्रकाशित

• अखिल भारतीय युवा कवि सम्मेलन में सहभागिता

• वर्ष 2011 से निरंतर ब्लाग लेखन

• भारत की प्रमुख एवं प्रतिष्टित हिन्दी वेबसाईट स्वर्गविभा  एवं प्रतिलिपि में 40 से ज्यादा रचनाएँ प्रकाशित

• वर्ष 2012 में ‘लिटरेचर इन इंडिया’ ब्लाग की स्थापना

• वर्ष 2014 में ‘लिटरेचर इन इंडिया’ वेब पत्रिका की स्थापना 

• वर्ष 2015 में ‘अमेज़न ‘ पर ‘प्यार अभी बाकी है’ (ISBN-10: 1516990625) काव्य संग्रह प्रकाशित 

Advertisements